scorecardresearch
 
खपरैल पर चलने का हुनर, छाता कैसे पकड़ें और Hi-Hello का मर्म: तीन ताल, Ep 93

खपरैल पर चलने का हुनर, छाता कैसे पकड़ें और Hi-Hello का मर्म: तीन ताल, Ep 93

तीन ताल के 93वें एपिसोड में कमलेश 'ताऊ', पाणिनि ‘बाबा’ और कुलदीप ‘सरदार' से सुनिए:

- आज तक रेडियो के नए रिकॉर्डिंग स्टूडियो का चित्रण

- बाबा और ताऊ आजकल क्या देख रहे हैं 

- Peaky Blinders की मज़ेदार देसी व्याख्या

- बाहर की कॉमेडी क्यों बाबा के पल्ले नहीं पड़ती

- सावन पर बाबा की टेक और पानी क्यों उत्साहित करता है 

- सावन में ताऊ की कांवड़ यात्रा और घुघनी का सेवन  

- शहरों की बारिश और ट्रैफिक जाम

- बारिश का साग जो बाबा चाव से खाते हैं 

- बरसात के मौसम में बचपन में इरिटेट करने वाली चीज़ें जो मिस करते हैं 

- बारिश में चाय पकौड़े क्यों पसंद आते हैं

- शहर की बारिश में बाबा क्या करते हैं 

- लोहागढ़ में ताऊ का कागस्नान और तेज़ बहाव में तैरने की बेक़रारी

- गोंडा में इंद्रदेव के खिलाफ शिकायत क्यों दर्ज हुई 

- खपड़े के प्रकार, इसको बनाने की प्रक्रिया और इस पर चलने का हुनर 

- छाते की विकासयात्रा, शिमला के छाते और इसको पकड़ने का तरीक़ा 

- गांवों के पायदान और कौन से पायदान अच्छे 

- बारिश कराने और रोकने के टोटके, सियार-सियारिन की शादी वाली बारिश 

- बरसात के यूज़लेस चप्पल और प्लास्टिक के जूते 

- एक किताब और लंबी ट्रेन यात्रा का रेकमेंडेशन 

- Hi, Hey, Hello का मर्म और बनारस के संबोधन 

- आप और तुम के प्रयोग

- स्पर्श की असहजता, घुटने छूकर इम्पोर्टेंट बात बताने वाले लोग

- खाली 'डियर' का इस्तेमाल क्यों न करें

- महिलाओं के संबोधनों में आने वाले रिश्ते

- संबोधनों में घुसे अंग्रेजी के शब्द जो अटपटे लगते हैं

- और आखिर में तीन तालियों की चिट्ठियां

प्रड्यूसर - कुमार केशव
साउंड मिक्सिंग - नितिन रावत

Listen and follow तीन ताल