scorecardresearch
 
नार्कोस का नरक, योगी का संकोच और रेलवे का रोग : तीन ताल Ep 59

नार्कोस का नरक, योगी का संकोच और रेलवे का रोग : तीन ताल Ep 59

तीन ताल के 59वें एपिसोड में कमलेश 'ताऊ', पाणिनि ‘बाबा’ और कुलदीप ‘सरदार' से सुनिए:

-Preamble (प्रस्तावना) को बाबा ने क्यों संविधान की जाति कहा. ताऊ के जन्मदिन का सरप्राइज. 

-Narcos (नार्कोस) निपटाते वक़्त बाबा को क्यों याद आती रही 'पहली मोहब्बत'. नार्कोस का  नरक से क्या लेना देना?

-बाबा और ताऊ की नज़रों से मोदी-योगी की तस्वीर का मतलब. क्यों संकोच से भरे दिख रहे हैं योगी. 

-लहसन को अदरक कहने वाले पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी को ताऊ ने क्यों मवाद चौधरी कहा. सब्जियों और मसालों के नाम जिनको लेते हुए लटपटाई ताऊ, बाबा और सरदार की ज़बान 

-रेलवे के 'भारत गौरव प्लान' पर बाबा को कौन से राजा और हाथी की कहानी याद आई. ख़राब पब्लिक ट्रांसपोर्ट का रेलवे से कनेक्शन क्या है.

-रेलवे के साथ क्या दिक्कत और रेलवे की वो झकझोर देने वाली तस्वीरें जिनकी झलक बाबा ने दिखलाई.

-ताऊ ने देश में ट्रकों की भारी संख्या पर क्यों जताया ऐतराज़.

-रेलवे को क्यों डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर बनाने की ज़रूरत और ट्रेनों में फर्स्ट क्लास कोच का क्या काम, साथ ही पान के लिए ट्रेन चलाने वाले मंत्री जी का किस्सा

-बिज़ार ख़बर में डीजे पर शोर वाला संगीत सुनने से 63 मुर्गियों की मौत के बहाने जानलेवा संगीत पर बात. 

-बाबा ने किस बात पर पर तानाशाही की हिमायत की.
हाल-फिलहाल में शादी करने वालों से ताऊ ने क्या अनुरोध किया.

-और आख़िर में तीन तालियों की कुछ चिट्ठियाँ और प्रतिक्रियाएँ.

प्रोड्यूसर- शुभम तिवारी
साउंड मिक्सिंग- अमृत रेगी

Listen and follow तीन ताल