scorecardresearch
 
संदीप उन्नीकृष्णन ने ताज हमले में आतंकियों से अकेले भिड़कर बचाईं थी साथियों की जान : नामी गिरामी, Ep 123

संदीप उन्नीकृष्णन ने ताज हमले में आतंकियों से अकेले भिड़कर बचाईं थी साथियों की जान : नामी गिरामी, Ep 123

26 नवंबर 2008 को मुंबई आंतकी हमले से दहल उठी.  इस हमले में एटीएस, सेना और पुलिस के कई जांबाज अधिकारी शहीद हो गए थे. उन शहीद अधिकारियों में से एक मेजर संदीप उन्नीकृष्णन भी थे. उन्होंने बड़ी बहादुरी से ताज होटल के भीतर आतंकियों का सामना किया था और वीरगति प्राप्त की. 'नामी गिरामी' के इस एपिसोड में सुनिए उन्हीं का सफ़रनामा अमन गुप्ता के साथ.   

साउंड मिक्सिंग: अमृत रेगी

Listen and follow नामी गिरामी