scorecardresearch
 
कहानी नूर जहां की, जो लता मंगेशकर से पहले स्वर कोकिला हो सकतीं थीं : नामी गिरामी, Ep 113

कहानी नूर जहां की, जो लता मंगेशकर से पहले स्वर कोकिला हो सकतीं थीं : नामी गिरामी, Ep 113

नूर जहां पाकिस्तान की वो फ़नकारा का थीं जो भारत में रहतीं तो लता मंगेशकर की जगह होतीं. वे ऐसी साहसी कलाकार भी थीं जिन्होंने सरकार के कार्यक्रम में फ़ैज़ की नज़्म सुनाने की हिम्मत की जिनसे सरकार नफ़रत करती थीं. और गाने के साथ-साथ उन्होंने अपने अभिनय से भी लोगों को मुरीद बना लिया. सुनिए उन्हीं नूर जहां का सफ़रनामा अमन गुप्ता के साथ. रिसर्च में मदद की प्राची प्रिया ने. 

साउंड मिक्सिंग: अमृत रेगी

Listen and follow नामी गिरामी